हाल ही में अंतरराष्ट्रीय हॉकी से संन्यास लेने वाले भारत के पूर्व कप्तान सरदार सिंह ने कहा कि वे वर्ष 2020 तक खेलना चाहते थे लेकिन एशियन गेम्स के बाद उन्होंने अपने विचार बदल लिए।

 

नवभारत टाइम्स की एक खबर के अनुसार, टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि वे अभी फिट हैं और वर्ष 2020 तक खेलना चाहते थे। लेकिन एशियन गेम्स के सेमीफाइनल में हारकर बाहर होने के कारण उन्होंने अपना फैसला बदल दिया।

 

 

View this post on Instagram

 

To each and every Indian around the world, happy independence day. I’m honoured to have had various opportunities to represent my country internationally. Jai hind ☺️☺️☺️ #happyindependenceday

A post shared by Sardarsingh (@sardarsingh8) on

उन्होंने बताया कि एशियन गेम्स से वापस लौटने के बाद उन्होंने अपने करीबी दोस्तों और परिवार के सदस्यों से इस बारे में बात की। इसके अलावे पीआर राजेश, कोच हरेंद्र सिंह और हॉकी इंडिया के अधिकारियों से भी मुलाकात की। उन्होंने कोच के बारे में कहा कि वे एक बेहतर कोच हैं और वर्ष 2002 में उन्हीं के नेतृत्व मे उन्होंने अपने हॉकी करियर की शुरूआत की और उन्हीं के मार्गदर्शन में वे अब संन्यास भी ले रहे हैं।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds