विज्ञान की खोज और विज्ञान की सिद्धांत हमेशा से आम इंसानों के लिए एक अनसुलझी पहेली ही रहे हैं। मंगल से लेकर चंद्र तक हम पहुंचे, वहाँ जीवन के होने न होने का पता लगाया, मानव के लिए सबसे आवयशक तत्वों में पानी के होने का पता लगाया। और अब विज्ञान की तरक्की के कारण हम ऐसी दुनिया में रहने जा रहे हैं जहाँ इंसान के साथ-साथ रोबोट अर्थात मशीनी इंसान भी रहेंगे। यहाँ तक कि उन्हें नागरिकता भी मिलनी शुरू हो चुकी है।

 

जी हाँ, सऊदी अरब इकलौता ऐसा देश बन गया है जिसने रोबोट सोफिया को देश की नागरिकता प्रदान की है। हालाँकि, कई देशों में रोबोट का इस्तेमाल काम के दौरान किया जाता है लेकिन इससे पहले किसी भी देश ने रोबोट को नागरिकता नहीं दी थी।

 

बता दें कि हैनसन रोबोटिक्स के फाउंडर डेविड हैनसन (David Henson) ने इस रोबोट का निर्माण किया है। हलाँकि, नागरिकता पर कई लोगों ने सवाल पूछे कि क्या देश में महिलाओं से ज्यादा किसी रोबोट की पहचान है? तो किसी ने पूछा रोबोट को एक महिला के रूप में पेश किया गया है लेकिन बिना स्कार्फ के? यह तो देश के खिलाफ है।

Image result for sofia the human robot
Credit: Daily Mirror

एक कार्यक्रम के दौरान सोफिया ने कहा, “नागरिकता के इस विशेष सम्मान को पाकर मैं गौरवान्वित हूं। मैं दुनिया की पहली रोबोट हूं जिसे नागरिकता से पहचाना जाएगा जो कि एक ऐतिहासिक बात है।

Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds