टाइम मैगज़ीन के वर्ष 2018 के सबसे ज्यादा प्रभावशाली 25 व्यक्तियों की सूची में तीन भारतीय युवाओं का नाम भी है। अलग-अलग क्षेत्रों में कार्यरत इन युवाओं में भारतीय मूल के अमेरिकी काव्या कोप्पारपु, रिषभ जैन और भारतीय मूल के ब्रिटीश नागरिक अमिका जॉर्ज का नाम शामिल है। जो दुनिया भर के युवाओं के लिए प्रेरणा स्रोत बन गए हैं।

रिषभ जैन जो कि आठवीं के छात्र हैं और ओरेगॉन (Oregon) में रहते हैं, उन्होंने एक ऐसा अल्गोरथम विकसित किया है जिसकी मदद से पैनक्रियाटिक कैंसर (pancreatic cancer) का इलाज किया जा सकता है।  एनडीटीवी ने टाइम्स मैगज़ीन के हवाले से लिखा है, 14 वर्षीय रिषभ ने एक ऐसा सॉफ्टवेर विकसित किया है, जो चिकित्सकों को पित्त की थैली के कैंसर का पता लगाने में काफी मदद कर रहा है और लोगों के इलाज में काफी मददगार साबित हो रहा है।

तो वहीं 18 वर्षीया काव्या कोप्पारपु हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की छात्रा हैं। जिन्होंने एक ऐसी कंप्यूटर प्रणाली विकसित की है जो मरीजों के ब्रेन टिशु स्कैन कर कैंसर का पता लगा सकता है। यह प्रणाली मरीज के दिमाग में स्थित टिशु को विभिन्न तरीकों से स्कैन करता है और कैंसर का पता लगाने में चिकित्सकों की सहायता करता है।

तो 19 वर्षीया अमिका जॉर्ज दुनिया से गरीबी दूर करने के लिए पॉलिसी मेकर बनना चाहती हैं। ये बात उन्होंने महिलाओं एवं लड़कियों को पैड वितरित करते हुए कही थी। इस दौरान उन्होंने टाइम मैगज़ीन से बात करते हुए कहा कि यह बहुत ही शर्मिंदगी की बात है कि आज भी अमेरिका में बहुत ऐसी लड़कियां हैं जो मासिक धर्म के समय स्कूल या कॉलेज नहीं जाती हैं क्योंकि वे पैड का खर्च वहन नहीं कर सकती। उन्होंने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार इससे वाकिफ है लेकिन इसके लिए वह कोई भी योजना नहीं बना रही है। 

Share

वीडियो