डेंगू और मलेरिया जैसी घातक बीमारियों की वजह से हर साल न जाने कितने लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ती है। लेकिन आने वाले समय पर इन बीमारियों पर लगाम लग सकती है। एनबीटी के अनुसार, अमेरिकी वैज्ञानिक एक ऐसा ड्रग बनाने की दिशा में काम कर रही है, जिससे मच्छरों के जन्म पर नियंत्रण रखा जा सकता है और इन घातक बीमारियों पर लगाम लगाया जा सकता है। 

खबरों की माने तो यूनिवर्सिटी ऑफ अरिजोना के शोधकर्ताओं का कहना है कि उन्होंने मादा मच्छरों के लिए एक ऐसा प्रोटीन खोजा है जो उनके बच्चों के सेने के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। जब वैज्ञानिकों ने इस प्रोटीन को ब्लॉक कर दिया तो मादा मच्छरों ने डिफेक्टिव शेल्स वाले अंडे दिए, जिनकी वजह से भ्रूण अंदर ही मर गए। शोधकर्ताओं की टीम ने कहा कि अगर ऐसा ड्रग या दवाई विकसित की जाए जो इस प्रोटीन पर टार्गेटेड हो, तो मच्छरों की आबादी को कम करने का एक तरीका मिल सकता है। ।

बता दें कि मच्छर को दुनिया के सबसे घातक जीवों में से एक माना जाता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार हर साल डेंगू और मलेरिया से लाखो लोगों को जान गंवानी पड़ती है। नवजात शिशु और बच्चे इस बीमारी की चपेट में सर्वाधिक आते हैं।

Share

वीडियो