खराब मौसम की वजह से गुरुवार को जम्मू से किसी भी तीर्थयात्री को घाटी की ओर जाने की इजाजत नहीं दी गई। पुलिस के मुताबिक, मंगलवार को बालटाल ट्रैक पर हुए भूस्खलन के बाद बुधवार से ही किसी भी तीर्थयात्री को भगवती नगर यात्री निवास से रवाना होने नहीं दिया गया।

अधिकारी ने कहा कि बालटाल और पहलगाम इन दोनों आधार शिविरों से अमरनाथ गुफा की ओर सीमित हेलीकॉप्टर सेवाएं ही हैं। गौरतलब है कि 28 जून को शुरू हुई यात्रा के बाद अब तक 60,752 तीर्थयात्री अमरनाथ की यात्रा कर चुके हैं।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds