ब्रिटिश विदेश मंत्री बोरिस जॉन्सन (Boris Johnson) ने ब्रिटेन की ब्रेक्सिट रणनीति को लेकर गहराए राजनीतिक संकट के बीच सोमवार को इस्तीफा दे दिया। जॉन्सन ने इस्तीफे का निर्णय ब्रेक्सिट मंत्री डेविड डेविस (David Davis) के इस्तीफे के चंद घंटों बाद लिया। डेविस ने प्रधानमंत्री थेरेसा मे के साथ ईयू से अलग होने की शर्तो को लेकर उभरे मतभेदों के कारण इस्तीफा दिया।

बीबीसी के अनुसार, इन इस्तीफों से ईयू के साथ ब्रिटेन के भावी रिश्ते को लेकर प्रधानमंत्री थेरेसा मे की योजना को धक्का लगा है। जबकि तीन दिन पहले ही उनके विभाजित मंत्रिमंडल में इसपर सहमति बनी थी।

एक बयान में जॉन्सन को उनके कार्य के लिए धन्यवाद दिया गया है और कहा गया है कि उनके स्थान पर किसी दूसरे नाम की घोषणा जल्द ही की जाएगी। बयान में कहा गया है, अपराह्न् में प्रधानमंत्री ने बोरिस जॉन्सन का विदेश मंत्री पद से इस्तीफा स्वीकार कर लिया।

बयान में कहा गया है, उनके स्थान पर दूसरे नाम की घोषणा जल्द ही की जाएगी। प्रधानमंत्री ने बोरिस को उनके काम के लिए धन्यवाद दिया है।

डेविस ने रविवार देर रात इस्तीफा दे दिया और घोषणा की कि वह मे की ब्रेक्सिट योजना का समर्थन नहीं कर सकते, क्योंकि इसमें ईयू के साथ एक अति करीबी रिश्ता शामिल है, और सिर्फ एक भ्रम बनाया गया है कि ईयू से अलग होने के बाद ब्रिटेन को पूरा नियंत्रण मिल जाएगा।

डेविस ने इस्तीफा देने के बाद कहा, मुझे लगता है कि हम बड़े ही आसानी से काफी कुछ गंवा रहे हैं, और इस बार यह एक खतरनाक रणनीति है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds