4 जनवरी 2018

अभिनेत्री मिशेल विलियम्स का कहना है कि उनकी आगामी फिल्म ‘ऑल द मनी इन द वर्ल्ड’ एक ‘नारीवादी’ फिल्म है, जो पुरुषों की दुनिया में एक महिला होना कैसा होता है’ यह दिखाती है। ‘ऑल द मनी इन द वर्ल्ड’ की कहानी तेल उद्यमी जे. पॉल गेट्टी के इर्द-गिर्द घूमती है। इसमें गेटी के पोते जॉन पॉल गेट्टी 3 की कहानी है, जिसे संगठित अपराधियों द्वारा अपहृत कर लिया जाता है और उसकी मां गेल्स (विलियम्स) उसके अमीर दादा को फिरौती की रकम देने के लिए मनाने का प्रयास करती है।

विलयम्स ने एक बयान में कहा, यह निश्चित रूप में अनिश्चितता से भरपूर ड्रामा है। लेकिन मैं यह समझती हूं कि यह एक नारीवादी फिल्म है। यह दिखाती है कि पुरुषों की दुनिया में एक महिला होना कैसा होता है।

उन्होंने कहा, वह सहजता से इस बात को समझ जाती है कि गंभीरता से लिए जाने के लिए, उसे नियंत्रण रखने के लिए अपनी सभी क्षमताओं और शक्तियों को इकट्ठा करना पड़ेगा। ताकि वह खुद के लिए जगह बना सके। फिल्म में कई दृश्य हैं, जिसमें उसे खारिज कर दिया जाता है, हाशिए पर रखा जाता है, क्योंकि वह एक महिला है।

अभिनेत्री का कहना है कि ‘उसे उस तरह के चरित्र निभाना पसंद है, जो असली होने के साथ थोड़े जटिल भी हों।’

यह फिल्म भारत में पीवीआर पिक्चर्स द्वारा शुक्रवार को रिलीज की जा रही है।

–आईएएनएस

Share