कैंसर सर्वाइवरों (कैंसर से लड़कर फिर से नई जिंदगी हासिल करने वाले) को अपनी कहानी सुनाने के लिए एक मंच प्रदान कर कैंसर से लड़ रहे लोगों में उम्मीद का दीपक जलाने के लिए पिंक होप कैंसर पेशेंट सपोर्ट ग्रुप ने सेल्फवी सर्वाइवर स्टोरीज के चौथे संस्करण की शुक्रवार को शुरुआत की।

यह पेशकश कैंसर केयर में विशेषज्ञ-एचसीजी के साथ मिलकर की गई है। अभियान सेल्फवी की थीम हर साल बदलती रहती है और इस बार की थीम है ‘सेलीब्रेटिंग लाइफ’। इसमें जिंदगी से जुड़े जश्न के विभिन्न पहलू शामिल हैं।

दिल्ली में पुरुषों में ओरल कैविटी और फेफड़ों का कैंसर तथा महिलाओं में सर्वाइकल एवं स्तन कैंसर का खतरा सबसे अधिक देखा गया है। यदि समय पर कैंसर का पता चल जाए तो इनमें से अधिकतर कैंसर की बीमारियों से बचा जा सकता है और उनका उपचार संभव है। इसलिए यह जरूरी है कि आपको इसकी जानकारी हो और कैंसर के लक्षणों का आप पहले से ही पता लगा सकें, ताकि एक बेहतर जिंदगी जी पाएं।

सेल्फवी सर्वाइवरों की स्टोरीज एक अनूठा मंच है। यह कैंसर सर्वाइवरों के लिए कैंसर से उबरने के अपने अदम्य जोश को व्यक्त करने का माध्यम है। देश में कैंसर के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और इसलिए इस तरह के अभियान का उद्देश्य कैंसर से जुड़े डर और मिथकों को मिटाना है।

इस अभियान का लक्ष्य कैंसर सर्वाइवरों को सामने आने और उम्मीद की अपनी कहानी बयां करने के लिये प्रेरित करना है। यह कैंसर से लड़ रहे कई मरीजों की जिंदगी में उम्मीद का दीपक जला सकता है।

अभियान में भाग लेने के लिए कैंसर सर्वाइवरों को 60-90 सेकेंड की अवधि का खुद का एक वीडियो बनाना होगा। इसमें वे कैंसर से जीतने की अपनी कहानी बताएंगे और जिंदगी के हर पल का आनंद उठाते हुए यह दिखाएंगे कि वह आज के समय में वे किस तरह जिंदगी जी रहे हैं। इसके बाद इन वीडियो को फेसबुक डाट काम/सेल्फवी या सेल्फवी डाट इन पर जारी किया जाएगा।

इन वीडियोज को बाहरी निर्णायकों द्वारा देखा जाएगा और सर्वश्रेष्ठ वीडियो को सेल्फवी 2018 के ग्रैंड फाइनल के लिए चुना जाएगा।

इस मौके पर कैंसर सर्वाइवर अमर भास्कर ने कहा, कैंसर से लड़ाई आसान नहीं है, पर अब समय आ गया है कि हम समाज में कैंसर के बारे में मौजूद नकारात्मकता और डर की मानसिकता को तोड़ें। एक सकारात्मक संदेश की दिशा में आगे बढ़ें। कैंसर के मरीजों एवं सर्वाइवरों को प्रेरित एवं प्रोत्साहित करें और उनके परिवारों को उनका सर्मथन करने एवं उन्हें जिंदगी का भरपूर आनंद लेने के लिए बढ़ावा दें।

सेल्फवी सर्वाइवर स्टोरीज की सदस्य डॉ. नलिनी राव ने कहा, यह कैंसर सर्वाइवरों के लिए दूसरों को अपने संघर्ष की कहानी बयां करने और कैंसर पर अपनी जीत के बारे में बताने तथा हिम्मत देने का एक बिल्कुल उपयुक्त मंच है।

इस पहल के माध्यम से पिंक होप कैंसर पेशेंट सपोर्ट ग्रुप का मुख्य उद्देश्य एचसीजी के साथ मिलकर उन मरीजों को जागरूक करना है, जो कैंसर से लड़ रहे हैं। इसके साथ ही अन्य कैंसर सरवाईवरों को उनकी कहानी साझा करने के लिए प्रोत्साहित करना भी इस पहल का लक्ष्य है।

Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds