मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुंबई के एक पांच सितारा होटल में आयोजित अंग्रेजी टीवी चैनल के कार्यक्रम के दौरान 25 से 30 वस्तुओं  पर सामान और सेवा कर(GST) के लिए दर निर्धारित किये हैं। जिसके बाद एयर कंडीशनर, डिशवाशर, डिजिटल कैमरे जैसी 99 प्रतिशत चीजें  18 प्रतिशत या उससे कम टैक्स के दायरे में आ जाएँगी। 

Narendra Modi
credit : Twitter

सरकार इससे पहले कह चुकी है कि वह टैक्स कम करने की दरों पर विचार करेगी। नरेंद्र मोदी ने इस कार्यक्रम के दौरान कहा कि, “आज जीएसटी (GST) प्रणाली काफी हद तक स्थापित हो चुकी है। और हम ऐसी स्थिति में काम कर रहे हैं जहाँ 99 प्रतिशत वस्तुएं 18 प्रतिशत की जीएसटी दायरे में आ जाएंगी।”

उन्होंने संकेत दिया है कि जीएसटी का 28 प्रतिशत स्लैब लग्जरी उत्पादों जैसी चुनिंदा वस्तुओं के लिए होगा। इससे आम आदमी पर कर का बोझ कम होगा और इस प्रकार वह ज्यादा चीज़ें खरीदने में एवं ज्यादा सेवाओं का लाभ उठाने में सक्षम होगा। वहीं खेती सम्बंधित उत्पादों के लिए यह दायरा पहले से ही 18 प्रतिशत है। 

शीर्ष जीएसटी स्लैब में सीमेंट, ऐसी, डिजिटल कैमरा, तम्बाकू, सिगरेट, पान मसाला, ऑटोमोबाइल, शीतल पेय, टायर, नौका, एयरक्राफ्ट समेत 35 वस्तुएं 28 प्रतिशत जीएसटी के दायरे में हैं। वहीं पिछले दिनों खबर आयी थी कि सीमेंट पर टैक्स 18 प्रतिशत करने की तैयारी है। अगर ऐसा होता है तो 300 का सीमेंट 25 तक सस्ता होगा। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि, “हमारे हर प्रयास से हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि कर व्यवस्था विभिन्न उद्यमों के लिए अत्यंत सरल हो। देश दशकों से जीएसटी की मांग कर रहा था एवं अब उन्हें यह बताते हुए ख़ुशी हो रही है कि देश की कर व्यवस्था में सुधार आ रहा है एवं उनकी कार्यकुशलता बढ़ रही है।”

 

Share

वीडियो