नवभारत टाइम्स की एक खबर के अनुसार, वॉलमार्ट (Walmart) फ्लिपकार्ट (Flipkary) की 75 प्रतिशत शेयर खरीदेगा, इसकी मंजूरी फ्लिपकार्ट ऑनलाइन सर्विसेज बोर्ड ने दी है। जिसकी कीमत 1,00,318 करोड़ है।

 

अमेरिकी (America) कंपनी वॉलमार्ट ने दुनियाभर में अपनी पैठ बनाने के लिए यह बड़ा कदम उठाया है। वॉलमार्ट के साथ इस सौदे में गूगल पैरंट अल्फाबेट भी शामिल है। फ्लिपकार्ट में सॉफ्टबैंक के भी शेयर हैं जिसके कारण सॉफ्टबैंक ग्रुप कॉर्पोरेशन भी 20 प्रतिशत से अधिक अपनी हिस्सेदारी बेच रहा है।

नवभारत टाइम्स की खबर के अनुसार, इस सौदे में बदलाव की संभावनाएँ हैं लेकिन 10 दिनों के अंदर सब साफ हो जाएगा। दूसरी ओर यह खबर एमेजॉन के लिए एक बड़ा झटका है क्योंकि वह भी भारतीय बाजार में अपना वर्चस्व बनाने के लिए फ्लिपकार्ट के शेयर का एक बड़ा हिस्सा खरीदना चाहता है।

 

भारत के ग्राहक अमेरिका और चीन के बाद ऑनलाइन मार्केट में सबसे ज्यादा है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds