अमेरिका (US) और चीन (China) के बीच तेज होते व्यापार युद्ध के कारण सैन डियागो (San Diego) की चिप निर्माता क्वालकॉम (Qualcomm) ने डेनमार्क (Denmark) की प्रौद्योगिकी कंपनी एनएक्सपी सेमीकंडक्टर के 44 अरब डॉलर में अधिग्रहण का सौदा रद्द कर दिया है क्योंकि चीनी नियामकों ने अंतिम समय-सीमा पार होने दी और सौदे को मंजूरी नहीं थी।

दोनों कंपनियों में प्रौद्योगिकी क्षेत्र के सबसे बड़े सौदों में एक को साल 2016 के अक्टूबर में किया और इस सौदा को पूरा करने का डेडलाइन कई बार बढ़ाया गया, क्योंकि वे चीन द्वारा इस सौदे को मंजूर करने या खारिज करने का इंतजार कर रहे थे।

क्वालकॉम का कारोबार जिन 9 देशों में है, उसमें से चीन को छोड़कर सभी देशों ने इस सौदे को मंजूरी दे दी थी। सौदे की अंतिम समय सीमा गुरुवार की सुबह थी और उस समय तक चीन के वाणिज्य मंत्रालय की तरफ से कोई जवाब नहीं मिला। इससे यह स्पष्ट है कि यह सौदा आधिकारिक रूप से रद्द हो गया।

क्वालकॉम इंक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्टीव मोलेनकोफ ने बुधवार को एक बयान में कहा, हम एनएक्सपी का अधिग्रहण करने का अपना खरीद सौदा रद्द करते हैं। इसके अलावा, समझौते को समाप्त करने पर, हम अपने शेयरधारकों को महत्वपूर्ण मूल्य प्रदान करने के लिए 30 अरब डॉलर तक के स्टॉक पुनर्खरीद कर, कार्यक्रम को आगे बढ़ाने का इरादा रखते हैं।

रिपोर्टो के मुताबिक, क्वॉलकॉम को ऑटोमोटिव, सिक्युरिटी और इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) समाधान मुहैया करानेवाली कंपनी एनएक्सपी सेमीकंडक्टर को ब्रेक अप शुल्क के तौर पर 2 अरब डॉलर देने होंगे।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds