लंबे समय से फ्लेक्सी फेयर को खत्म करने की बात की जा रही है लेकिन रेलमंत्री पीयूष गोयल ने इस बात का खंडन किया है और आश्वासन  दिलाया है कि यह पूरी तरह से खत्म नहीं होगी। हाँ लेकिन यात्रियों के लिए उसमें कुछ बदलाव किये जा सकते हैं।

 

नवभारलत टाइम्स की एक खबर के अनुसार, यह मुद्दा रेलवे में पिछले डेढ़ साल से चर्चा का विषय रहा है कि फ्लेक्सी फेयर खत्म किए जाए या नहीं। रेलवे इस मामले में विचार-विमर्श कर रही है कि इस मामले में यात्रियों को किस प्रकार से राहत दी जाए। अभी रेलवे नियम के अनुसार, 10 फीसदी टिकट बिकने के बाद 10 फीसदी किराया बढ़ाया जाता है।

 

भारतीय रेल भारतीय संस्कृति ———————————————— भारतीय रेलवे धीरे-धीरे अपनी सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए प्रगति कर रहा है। यह ट्रेन के हर कोच को अधिक तरीको से बेहतर करने का प्रयास है। इससे पहले, मई में, भारतीय रेलवे कोचों में एक बदलाव मिला, यह बदलाव मुख्य रूप से राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान, अहमदाबाद द्वारा समर्थित था। इसी के चलते शुक्रवार को नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से बिहार के दरभंगा की पटरियों को चीरते हुए बिहार सम्पर्क क्रांति एक्सप्रेस की एक नई शुरुआत हुई । ट्रेन के 9 कोच मिथिला आर्ट के साथ चत्रिति हैं। रेल की बोगिओं पर बने चित्र मधुबनी की संस्कृति को दिल्ली से दरभंगा तक के सभी लोगों को अपने राज्य की संस्कृति से अवगत कराती दिखेगी। 📸 सभी फोटो (@hemantrawat1234 ) #indianews #indianrailway #art #artonindianrailway #railway #madhubani #bihar #prayukti #dainikprayukti #ministryofrailways

A post shared by Dainik Prayukti (@dainikprayukti) on

अब ऐसा हो सकता है कि या तो 20 फीसदी सीट की टिकट बिकने के बाद बढ़ोतरी होगी या फिर 10 के बदले 5 फीसदी ही बढ़ोतरी की जाए।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds