अक्सर ऐसा होता है कि सामान खरीदने के बाद दुकानदार छुट्टे नहीं होने की बात बताकर टॉफी थमा देते हैं, और न चाहते हुए भी दुकानदार द्वारा दी जाने वाली टॉफी लेनी पड़ती है। वैसे सामान खरीदते वक्त ऐसा आपके साथ भी हुआ होगा, लेकिन झारखंड में ऐसा नहीं है, यहां सिक्के के बदले टॉफी या कोई अन्य सामान पकड़ाने वाले दुकानदारों की खैर नहीं है।

झारखंड के हज़ारीबाग में एक दुकानदार को ग्राहक को सिक्के के बदले टॉफी पकड़ाना काफी महंगा पड़ गया। ग्राहक ने इसकी शिकायत ज़िला प्रशासन से कर दी, जिसके बाद ज़िला प्रशासन ने कड़ा कदम उठाते हुए दुकान पर ₹50 हज़ार का जुर्माना लगा दिया। ज़िला प्रशासन के इस शख्त कार्रवाई से सिक्के के बदले टॉफी पकड़ाने वाले दुकानदार सकते में आ गए।

Image result for Coin indian
Credit: Emitpost

खबरों की माने तो हज़ारीबाग स्थित विशाल मेगा मार्ट में काफी समय से ग्राहकों को सिक्के नहीं होने की बात बताकर, उन्हें सिक्के लौटाने की बजाए टॉफी पकड़ा दी जा रही थी।  बताया जाता है कि एक ग्राहक ने इसकी शिकायत सदर एसडीओ कार्यालय में दर्ज कराई थी।

ग्राहक की शिकायत पर सदर एसडीओ आदित्य रंजन ने तत्काल कार्रवाई करते हुए, पहले विशाल मेगा मार्ट को नोटिस भिजवाया। लेकिन मेगा मार्ट की तरफ से इस संबंध में संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर एसडीओ ने मार्ट पर ₹50 हज़ार का जुर्माना लगा दिया। इसके अलावा एसडीओ ने अन्य दुकानदारों को चेतावनी भी दी है कि यदि किसी ने ग्राहकों को छुट्टे के बदले जबरदस्ती टॉफी आदि सामान देने की कोशिश की तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Share