लड़कियां चेहरे के अनचाहे बाल हटाने के लिए थ्रेडिंग का सहारा लेती हैं, लेकिन चेहरे की त्वचा मुलायम होने के कारण थ्रेडिंग करवाने के बाद लालिमा और मुहाँसों की समस्या होने लगती है। मुहांसे होने पर चेहरा अनाकर्षक लगने लगता है। यदि आपको भी थ्रेडिंग करवाने के बाद यह समस्या होती है और आप इससे छुटकारा पाना चाहती हैं तो थ्रेडिंग करवाने से पहले और बाद कुछ टिप्स अपनाएं जिसके बाद आपको दोबारा यह समस्या नहीं होगी।

Image result for threading eyebrows
Credit: Rafi Chowdhury

थ्रेडिंग करवाने से पहले करें ये उपाय:

1. थ्रेडिंग करवाने से पहले चेहरे को अच्छी तरह धोकर साफ कर लें। अगर हो सके तो चेहरे को गुनगुने पानी से धोएं। फिर चेहरे को साफ कपड़े से हल्के हाथों से पोंछे।

2. फिर टोनर लगाकर चेहरे को नमी प्रदान करें। दाने वाली त्वचा के लिए विच हेज़ल जड़ी बूटी से बना टोनर इस्तेमाल करें। आप चाहे तो दालचीनी की चाय को भी टोनर के रूप में इस्तेमाल कर सकते है।

3. अब पार्लर में जाकर थ्रेडिंग करवाएं।

थ्रेडिंग के बाद करें ये उपाय:

1. त्वचा को जलन और संक्रमण से बचाने के लिए टोनर लगाकर आई ब्रो पर बर्फ लगाएं। अगर आप चाहें तो इसे गुलाबजल से धोएं। इससे थ्रेडिंग के दौरान होने वाले घाव से राहत मिलेगी और साथ ही मुहाँसों की समस्या भी नहीं होगी।

2. थ्रेडिंग करवाने के बाद कम से कम 12 से 24 घंटे तक थ्रेडिंग वाले हिस्से को न छुएं। आइब्रों को बार-बार टच करने से मुहाँसों और दानों की समस्या हो सकती है।

3. इसके अलावा कम से कम 12 घंटे तक कोई भी केमिकल्स युक्त ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल न करें। इससे त्वचा पर साइड-इफैक्ट हो सकता है।

4. थ्रेडिंग के बाद किसी भी तरह का स्टीम ट्रीटमेंट न लें।

नोट:

इस वेबसाइट की सामग्री केवल सूचनात्मक उद्देश्यों के लिए है और चिकित्सा सलाह नहीं है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds