आजकल के भाग-दौड़ भरे जीवन में किसी के भी पास इतना समय नहीं है कि वह अपनी सेहत का ध्यान रख सके। गलत खान-पान और स्वास्थ्य के प्रति बरती गई थोड़ी-सी असावधानी से आपको कई समस्याएं होने लगती हैं। इससे बचने के लिए सही खान-पान का होना बहुत जरूरी है। कुछ लोग अपने दिन की शुरूआत ग्रीन टी से करते हैं लेकिन इससे भी ज्यादा फायदेमंद हैं पुदीने की चाय।

Image result for spearmint tea
Credit: LEAFtv

आज हम आपको स्पेअरमिंट टी यानी पुदीने की चाय के बारे में बताएंगे जिसके सेवन से आप कई बीमारियों से बच सकते हैं:

1. शरीर की प्रतिरोधक प्रणाली मजबूत बनाए!

जो लोग अक्सर बीमार रहते हैं उनके लिए स्पेअरमिंट टी पीनी बहुत फायदेमंद होती है। इसमें पाए जाने वाले पौषक तत्व रोग प्रतिरोधक क्षमताओं को बढ़ाने में सहायक होते हैं । इसके साथ ही रोजाना 1 कप स्पेअरमिंट टी पीने से पाचन तंत्र, पेशाब से होने वाली जलन और सांस संबंधित समस्याओं से राहत मिलती है।

2. पीसीओएस में मददगार!

शरीर और चेहरे पर अत्यधिक बालों का होना, यौन इच्छा में अचानक कमी, युवावस्था या प्रजनन की उम्र के दौरान अनियमित मासिक धर्म का होना, शादीशुदा महिलाओं में बांझपन या गर्भ न ठहरना, ये सभी पीसीओएस के लक्षण हैं। इस बीमारी से बचने के लिए रोजाना 1 कप स्पेअरमिंट टी पीएं।

3. ऑस्टियोआर्थराइटिस को करे कम!

स्पेअरमिंट टी में एंटी ऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं जो सूजन को कम करने का काम करते हैं। यदि आपको ऑस्टियोआर्थराइटिस की समस्या है तो इस चाय को पीना शुरू करें। इसको पीने से कुछ ही दिनों में जोड़ों में होने वाले दर्द से भी राहत मिलेगी।

4. पेट की समस्याओं को करे दूर!

यह चाय हमारे पाचन तंत्र को मजबूत करती है। इसके साथ यह पेट में बनने वाली गैस और दर्द से भी राहत दिलाती है। इसके अलावा स्पेअरमिंट टी पाचन क्रिया को सुधारती है और भोजन को पचाने में भी मदद करती है।

5. सांसों की बदबू मिटाए!

कई लोगों द्वारा बार-बार ब्रुश करने के बाद भी उनकी सांसों से बदबू नहीं जाती है। एेसा सल्फाइड और अमाइन के कारण होता है। स्पेअरमिंट टी के गुण सांसों की बदबू पैदा करने वाले पदार्थों को बढ़ने से रोकते हैं । खाने में इस चाय को शामिल करने से सांसों की बदबू धीरे-चीरे मिटने लगती है।

6. फंगल इंफैक्शन रोके!

स्पेअरमिंट टी में एंटी-फंगल गुण भी होते हैं जो फंगल इंफैक्शन से लड़ने में सहायक होते हैं। रोजाना 1 कप इस टी को पीने से पाचन तंत्र मजबूत होने के साथ ही फंगल इंफैक्शन होने का भी खतरा कम रहता है।

7. तनाव से राहत दिलाए!

स्पेअरमिंट टी में प्राकृतिक एंटी-स्पास्मोडिक गुण हैं जो तनाव से राहत देने के लिए अच्छा होते हैं। इसके प्राकृतिक एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण रक्त-चाप और शरीर के तापमान को कम करने में मदद करते हैं और आपको आराम देते हैं।

8. लीवर रखे स्वस्थ!

एक रिसर्च में पाया गया है कि स्पेअरमिंट टी पीने से लीवर मजबूत होता है। यदि आपको भी लीवर यानी जिगर से संबंधित कोई समस्या है तो इस चाय को अपने खाने में जरूर शामिल करें।

9. कैंसर से बचाव!

एक शोध में पाया गया है कि स्पेअरमिंट टी में एंटीऑक्सिडेंट गुण पाए जाते हैं जो फ्री रेडिकल को खत्म करते हैं। कैंसर से बचाव के लिए रोजाना यह चाय पीएं।

10. त्वचा की जलन को करे कम!

यदि आपकी त्वचा बहुत ज्यादा संवेदनशील है और इसकी वजह से अक्सर आपको जलन और एलर्जी हो जाती है तो एक कप पुदीना की चाय बहुत ज्यादा लाभदायक सिद्ध होगी। यह चकत्ते, जलन, कीड़े के काटने, खुजली और त्वचा में सूजन जैसी त्वचा की समस्याओं का इलाज करने में भी सहायक होती है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds