शेन यून परफॉर्मिंग आर्ट्स (Shen Yun Performing Arts) ने 2006 में न्यू यॉर्क में अपना निर्माण शुरू किया था। उस समय, प्रतिभाशाली कलाकारों के एक समूह ने प्राचीन चीनी संस्कृति को पुनर्जीवित करने, अपने सार को पकड़े रखने और इसे दुनिया में पेश करके इसके सराहे जाने की इच्छा की थी।

यह दुनिया को कला के माध्यम से यह बताने का एक तरीका भी था कि आधुनिक चीन में क्या हो रहा है, क्योंकि उनका कार्यक्रम आज से लेकर हजारों साल पहले की चीनी संस्कृति तक फैला है—चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (CCP) के फालुन गोंग के उत्पीड़न सहित, जो एक शांतिपूर्ण मन-शरीर का साधना अभ्यास है जो 1990 के दशक में बेहद लोकप्रिय हो गया था।

सीसीपी, जिसने 1999 में फालुन गोंग (जिसे फालुन दाफा भी कहा जाता है) के उत्पीड़न की शुरुआत की थी, और उन्होंने  शेन यून को अपने विश्वव्यापी दौरे पर परेशान करना जारी रखा है, और लगातार राजनेताओं और कई अन्य लोगों को प्रभावित करने का प्रयास किया है कि वे यह प्रदर्शन न देखें।

इस निरंतर आंदोलन के पीछे का सत्य क्या है?

सीसीपी ने चीन में हो रहे फालुन दाफा के उत्पीड़न की सच्चाई को दुनिया से छिपाने की कोशिश करने के लिए बेहद कोशिशें की है, और कैसे इन अनगिनत साधकों को उनके विश्वास के लिए उनपर अत्याचार, हत्या और जबरन अंगों को निकाला जाता है।

शेन यून प्रदर्शनों पर रूकावट डालने अपने प्रयासों में सीसीपी ने कई मार्गों का उपयोग किया है।

दुनिया के दौरे के अपने पहले वर्ष में, सीसीपी ने शेन यून के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए लगभग 60 प्रदर्शन समूहों का आयोजन किया; हालांकि, एक बार जब दर्शक शेन यून की शुद्धता और प्रामाणिकता के संपर्क में आये, तो उन्होंने समझ लिया कि और कुछ भी उसकी तुलना नहीं कर सकता था, और शेन यून ने इस मंच पर सबसे अच्छा होने की प्रतिष्ठा को जल्द ही प्राप्त कर लिया।

शेन यून के विरोधी शो अक्सर उनके प्रदर्शन के सामने की सड़क पर किये जाते, लेकिन उनकी गुणवत्ता इनके साथ प्रतिस्पर्धा नहीं कर सकी।

अपने तीसरे वर्ष तक, सीसीपी ने शेन यून अनुबंधों को रद्द करने, या उन्हें स्वीकार करने से मना करने के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका, यूरोप और एशिया के सिनेमाघरों पर दबाव डाला।

पिछले महीने होने वाले नवीनतम मामले में, शेन यून की मेजबानी करने से रोकने के लिए रॉयल डेनिश थियेटर को प्रभावित करने चीनी दूतावास को डेनिश रेडियो स्टेशन रेडियो 24 एसवाईवी द्वारा उद्घाटित किया गया है।

शेन यून टूर बसों के टायरों को चीर दिया गया है, ईंधन की टैंकों के साथ छेड़छाड़ की गई है, कलाकारों को हवाई अड्डे पर परेशान किया गया है, और सीसीपी के गलत सूचना अभियान ने शेन यून की प्रतिष्ठा को कलंकित करने के लिए कभी-कभी पश्चिमी मुख्यधारा के मीडिया तक भी अपना रास्ता बना लिया है। इसके अलावा, राजनेताओं को धमकाने वाले पत्र भेजे गए हैं यह सलाह देते हुए कि वे शो देखने ना जाएं, यहां तक कि सिनेमाघरों ने यह भी कहा है कि उन्हें चीनी वाणिज्य दूतावासों से कॉल प्राप्त हुए हैं कि शो रद्द किये जाएं।

हालांकि, ऐसे कई राजनेता हैं जिन्होंने शो देखे हैं, और उसकी प्रशंसा के गीत गाते हैं।

Rep. Dana Rohrabacher (R-Calif.). (©Lin Fan/Epoch Times)

प्रतिनिधि दाना रोहराबाखर (Rep. Dana Rohrabacher) (आर-कैलिफोर्निया) ने कहा, “मैं अपने परिवार के साथ पहले भी प्रदर्शन देखने आया हूं, और मेरे बच्चों को बहुत ही पसंद आया।” “यह वास्तव में शानदार है, और दुनिया में ऐसा कोई कारण नहीं है कि विभिन्न देशों के लोगों को यह नहीं देखना चाहिए।”

शेन यून पांच महाद्वीपों का पर्यटन करता है, लगभग 150 स्थानों में प्रदर्शन करते हुए, और इसकी लोकप्रियता बढ़ रही है।

फरवरी से मार्च तक, शेन यून ने ताइवान के सात शहरों में 34 शो किए। ताइवान के राष्ट्रपति त्सई इंग-वेन (Tsai Ing-wen) ने 100 निर्वाचित अधिकारियों के साथ, शेन यून कलाकारों का ताइवान में गर्मजोशी से स्वागत किया। ताइवान में यह बारहवें बार शेन यून ने प्रदर्शन किया था। ताइवान के अधिकारी प्रदर्शन की प्रशंसा करते हैं, और पारंपरिक चीनी संस्कृति को पुनर्जीवित करने के उनके मिशन की सराहना करते हैं।

2010 में, शेन यून ने हांगकांग में प्रदर्शन करने के लिए एक निमंत्रण स्वीकार कर लिया, लेकिन जब हांगकांग सरकार ने वीज़ा को अस्वीकार करते हुए छह प्रमुख प्रस्तुतीकरण कर्मियों को प्रवेश करने से इनकार कर दिया, तो कंपनी को अपने सात कार्यक्रमों को रद्द करना पड़ा, जिनकी टिकटें पूरी तरह बिक चुकी थीं।

प्रतिनिधि क्रिस स्मिथ (Chris Smith) (आर-एनजे), चीन पर कांग्रेस के कार्यकारी आयोग के अध्यक्ष। (© लिन फैन / एपोक टाइम्स)

चीन के कांग्रेस-कार्यकारी आयोग के अध्यक्ष प्रतिनिधि क्रिस स्मिथ (Chris Smith) (आर-एनजे) का कहना है कि हांगकांग सरकार को अभी भी शेन यून को आमंत्रित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाना चाहिए, हालांकि उन्हें यकीन नहीं है कि परिणाम सकारात्मक होगा।

“यह एक सांस्कृतिक घटना है जो मुझे लगता है कि हांगकांग के लोगों का उत्थान करेगा। बीजिंग में सरकार को इससे क्यों डर होगा? “स्मिथ ने कहा, जैसा कि द एपोक टाइम्स ने बताया था। “यह न केवल हांगकांग के लोगों के लिए बहुत ही अच्छा होगा, बल्कि इस प्रदर्शन के लिए बीजिंग में भी अनुमति होनि चाहिए।”

इस पर और अधिक जानने के लिए नीचे दिया गया वीडियो देखें:

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds