देश-विदेश में पीतल की चमक पहुंचाने वाला मुरादाबाद गुरुवार को सैकड़ों जोड़ियों की शादी का साक्षी बना। पीतल नगरी में आयोजित हुए इस भव्य “सामूहिक शादी समारोह” की सबसे खास बात ये रही कि, यहां एक तरफ पंडित मंत्रोचारण के साथ हिन्दू जोड़ों की शादी करा रहे थे, तो वहीं दूसरी ओर काज़ी मुस्लिम जोड़ियों का निकाह कराते हुए नज़र आए।

1. परिणय सूत्र में बंधे 131 जोड़े!

Credit: ANIUP

मुख्यमंत्री सामूहिक शादी समारोह के अंतरगत आयोजित हुए इस शादी समारोह में 131 जोड़े परिणय सूत्र में बंधें, जिसमें 46 मुस्लिम, तो 85 हिन्दू जोड़े एक-दूसरे के जीवन साथी बने। खबरों की माने तो मुख्यमंत्री सामूहिक शादी समारोह के अंतर्गत शादी के बंधन में बंधे सभी जोड़ों के खाते में 20-20 हज़ार रुपये नकद और 10-10 हज़ार रुपये के शादी का सामान उपहार स्वरुप भेंट किया गया।

2. अन्य ज़िलों में भी होगा ऐसा कार्यक्रम!

Credit: ANIUP

इस दौरान मीडिया से बात करते हुए ज़िलाधिकारी “राकेश कुमार सिंह” ने कहा कि, सभी शादियां मुख्यमंत्री सामूहिक शादी समारोह के अंतरगत संपन्न हुई हैं। उन्होंने कहा कि यह ज़िले का पहला ऐसा समारोह था, इसके लिए प्रशासन की तरफ से पूरी तैयारियां की गई थी। नवदंपतियों पर फूलों की वर्षा कराकर दांपत्य पथ पर उनका स्वागत किया गया।

3. सरकारी योजनाओं का लाभ लें लोग!

Credit: ANIUP

जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि सरकार गरीब कन्याओं की शादी कराने के लिए ऐसे और भी कार्यक्रम प्रदेश के अन्य ज़िलों में भी आयोजित करेगी। उन्होंने कहा कि लोगों को सरकार की योजनाओं का लाभ लेना चाहिए।

Share