प्यार जाति या भेद देखकर नहीं होता है। ये तो दो दिलों का मिलन है, जो कभी भी किसी के साथ जुड़ जाता है। हालांकि, दिल में छुपे इस जज़्बात को जाहिर करना थोड़ा मुश्किल होता है, लेकिन जो इसे जाहिर कर देता है उसे अपनी प्यार की मंज़िल आखिरकार मिल ही जाती है। कुछ ऐसी ही कहानी मुंबई के इस चाय वाले की भी है…

बात तब की है जब दोनों की उम्र बीस वर्ष के करीब थी। मुंबई की एक बस्ती में मिलने के बाद दोनों के बीच प्यार परवान चढ़ा और इस शख्स ने लड़की को अपने दिल की बात बता दी। ह्यूमन्स ऑफ बॉम्बे से बात करते हुए महिला ने बताया कि, “हम जब बीस वर्ष के थे तब हमारी मुलाकात हुई थी। कोई बात या डेटिंग नहीं हुई। इन्होंने सीधा बोल दिया, ‘मुझ से शादी करोगी?'”

महिला ने बताया जब मैने उनसे पूछा कि “मैं आप से शादी क्यों करुं? तो उन्होंने कहा, ‘मैं घर का सभी काम करुंगा तुम कोई भी काम करने के लिए स्वतंत्र रहोगी।'” अपने बारे में बताते हुए महिला ने आगे कहा, “आप देख सकते हैं कि आज हम दोनों एक खुशहाल दांपत्य जीवन व्यतीत कर रहे हैं और बिज़नेस पार्टनर भी हैं। हम दोनों का चाय का स्टॉल है।”

“एक और बात! हर रोज़ ये मेरे लिए अदरक वाली स्पेशल चाय बनाकर लाते हैं। मुझे लगता है, मैं दुनिया की पहली महिला हूं जो कहती है कि मेरे पति के हाथ की चाय सबसे अच्छी है।”

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds