पर्यावरण को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए देशभर में कवायद शुरु हो चली है। उत्तर प्रदेश, मध्यप्रदेश आदि राज्यों में प्लास्टिक प्रतिबंधित होने के बाद अब महाराष्ट्र सरकार ने भी प्रदेशभर में प्लास्टिक पर बैन लगा दिया है। तो वहीं दिल्ली से सटे गुरुग्राम की एक महिला ने अपने शहर को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए एक अनोखे पहल की शुरुआत की है।

दी बेटर इंडिया के मुताबिक गुरुग्राम के सेक्टर-14 की रहने वाली समीरा सुतीजा ने बर्तन बैंक खोला है। अपनी तरह का इकलौता यह बैंक लोगों को शादी या किसी भी कार्यक्रम में इस्तेमाल के लिए स्टील के बर्तन मुफ्त में मुहैया कराता है।

दी बेटर इंडिया के मुताबिक ऑडिट डिपार्टमेंट में काम करने वाली समीरा ने बताया कि “इस बैंक को खोलने का विचार इसलिए आया ताकि शहर को प्लास्टिक के अंबार से मुक्त किया जा सके और लोग कम से कम प्लास्टिक निर्मित चीज़ों का इस्तेमाल करें।”

समीरा के मुताबिक, गर्मी के मौसम में निःस्वार्थ भाव से जनता को प्लास्टिक की गिलास में मीठा जल वितरित करते लोगों को देखकर उन्हें इस बैंक को खोलने का विचार आया। हालांकि, यह काम सेवाभाव से किया जा रहा था, साथ ही प्लास्टिक गिलास के इस्तेमाल से पर्यावरण को भी इससे नुकसान पहुंच रहा था।

इसके बाद समीरा ने बर्तन बैंक खोलने की योजना बनाई और 100 गिलास, 100 प्लेट और 75 क्वार्टर प्लेट से इसकी शुरुआत की। बर्तनों को खरीदने के लिए समीरा ने अपनी जेब से पैसे लगाए और इसके लिए उन्होंने ₹10,000 खर्च किए।

हालांकि, कुछ वक्त के अंतराल के बाद बर्तनों की संख्या 400 से भी ऊपर हो गई। समीरा ने लोगों से अनुरोध किया है कि वे हर सेक्टर में इस तरह के बैंक खोलें। उनके इस कार्य में लोगों ने भी अपना योगदान दिया है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds