अमेरिका (America) की फाइटर विमान कंपनी बोइंग ने एफ-15 कार्यक्रम के लिए एक भारतीय को चुना है। बोइंग इंडिया के अध्यक्ष प्रत्युष कुमार F-15 कार्यक्रम का नेतृत्व करेंगे। प्रत्युष कुमार भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) दिल्ली से पढ़े हैं।

प्रत्युष को उनके जानने वाले “प्रैट” (Prat) के नाम से पुकारते हैं। प्रैट ने 1989 में आईआईटी दिल्ली से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बीटेक किया और बाद में मैसाचुसेट्स इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (Massachusetts Institute of Technology) से पीएचडी की।

वैश्विक एयरोस्पेस कंपनी बोइंग ने अपने एक बयान में कहा कि प्रत्युष कुमार को संयुक्त राज्य अमेरिका में एफ-15 कार्यक्रम का नेतृत्व करने के लिए चुना गया है। अब प्रत्युष अमेरिका और बाकी दुनिया में F-15 के कारोबार को आगे बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करेंगे। बोइंग का कहना है कि प्रत्युष कुमार ने भारत में पांच साल के कार्यकाल के दौरान व्यावसायिक विमानों, रक्षा, अंतरिक्ष, सुरक्षा और वैश्विक सेवाओं में कंपनी के कारोबार को आगे बढ़ाया है।

View this post on Instagram

A post shared by Jason Grunsell (@firstrides) on

बोईंग ने अपने एक बयान में कहा

है कि “हमने बेंगलुरु में अपने इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी केंद्र को इनोवेटिव बनाने के लिए अपने कार्यकाल के दौरान लॉन्च किया, एयरोस्पेस आपूर्ति श्रृंखला को बढ़ाया और अपाचे हेलीकॉप्टर के लिए फ्यूजलेज (मुख्य निकाय अनुभाग) बनाने के लिए हैदराबाद में संयुक्त उद्यम स्थापित किया है।”

दुनिया भर में एफ-15 कार्यक्रम के लिए व्यवसाय हेतु अपनी नई अमेरिकी भूमिका के बारे में उत्साहित प्रत्युष कुमार ने कहा कि कंपनी भारतीय उपमहाद्वीप में अपने स्थानीय विनिर्माण, प्रौद्योगिकी और नवोन्मेष (innovation) उत्पादों और लोगों का विस्तार करेगी।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds