जलवायु परिवर्तन एक प्राकृतिक घटना है पृथ्वी की जलवायु पिछले दो अरब साल में कई बार बदल चुकी है। इसके अलावा कल-कारखानों और घरों से निकलने वाले कचरे से महासागर पूरी तरह से गंदे हो रहे हैं जिससे पीने योग्य पानी मिलना दुर्लभ हो रहा है। कुछ लोग ऐसे हैं जिन्हें अपने पर्यावरण को लेकर चिंता है और वे इसके लिए काम करते हैं ताकि उनकी आने वाली पीढ़ी के लिए एक बेहतर भविष्य बन सके। उन्हीं लोगों में से एक नाम है बेंगलुरु की 15 वर्षीय गर्विता गुलाटी का। 

credit :twitter

15 साल की गर्विता व्हाई वेस्ट(Why Weast) नामक संस्था चलाती हैं। इस संस्था के द्वारा वे लोगों में पर्यावरण के बारे में जागरूकता बढ़ाती हैं। गर्विता की कड़ी मेहनत और समर्पण की वजह से इन्हें वैश्विक परिवर्तक नेटवर्क (Global Changemakers network) जो कि स्विज़रलैंड के जूरिख में स्थित है, वहाँ से बुलावा आया था।

जब उनका चयन हुआ था तब इंडिया टाइम्स (IndiaTimes) को दिए साक्षात्कार में गर्विता ने कहा था,”मैं वैश्विक परिवर्तक नेटवर्क(Global Changemakers network) का हिस्सा बनकर बहुत ही उत्साहित हूँ। दुनिया भर के युवा परिवर्तकों से सीखने का यह शानदार अवसर हैं। वापस आने के बाद मैं अपने देश के युवाओं को परिवर्तक बनने के लिए प्रेरित करुँगी। मेरी नजर में देश के हर युवा को पर्यावरण में बदलाव को लेकर काम करना चाहिए।”

वैश्विक परिवर्तक नेटवर्क(Global Changemakers network) ने चयन के कई स्तरों के बाद 185 से अधिक देशों के 1000 लोगों को इस बैठक के लिए चुना। अगस्त 12 से 18 तक चले इस बैठक में भाग लेकर गर्विता गुलाटी  अन्य क्षेत्रों से धन जुटाने, नेतृत्व, परियोजना प्रबंधन जैसे कार्यो में प्रशिक्षित होकर आईं। 

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds