स्वतंत्रता सेनानी चंद्रशेखर आजाद की 112वीं जयंती पर सोमवार को प्रसिद्ध फिल्म स्टूडियो बॉम्बे टॉकीज ने घोषणा की कि उनके जीवन पर आधारित “राष्ट्रपुत्र” 14 सितंबर को रिलीज होगी। “राष्ट्रपुत्र” आजाद द्वारा लिखित, निर्देशित और अभिनीत होगी। फिल्म का टीजर और मोशन पोस्टर भी लॉन्च किया जा चुका है।

 

आजाद ने आईएएनएस से कहा, “यह बहुत ही खास फिल्म है। मेरे दिल के करीब है। ब्रिटिश शासित देश में चंद्रशेखर उस समय के एकमात्र युवा स्वतंत्रता सेनानी थे, जिन्होंने खुद को ‘आजाद’ नाम दिया जिसका अर्थ स्वतंत्रता है।”

उन्होंने कहा कि वे खुद मानसिक रूप से स्वतंत्र थे, उनका सपना देश को मुक्त कराना था। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि बहुत से लोग उनकी कहानी को विस्तार से नहीं जानते हैं। मुझे लगता है कि हमारी आने वाली पीढ़ी को भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में शामिल हुए चंद्रशेखर आजाद के योगदान के बारे में जानना चाहिए। “राष्ट्रपुत्र” 26 भाषाओं में रिलीज होगी।

बॉम्बे टॉकीज की स्थापना 1934 में हिमांशु रॉय और देविका रानी ने की थी और इसने उस जमाने में कई हिट फिल्में दी थीं। भारतीय सिनेमा के इस ऐतिहासिक बैनर की छः दशक बाद ‘राष्ट्रपुत्र’ से वापसी हो रही है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds