हिंदी साहित्य में नव रस माने गए हैं। हास्य रस उन में से एक है। हास्य एक ऐसी पूँजी है जो हंसने वाले को तो स्वस्थ बनाती ही है, आस-पास वालों को भी मालामाल कर देती है। हंसने से मुख की मांसपेशियों का व्यायाम होता है और रक्त संचरण सामान्य रहता है। हंसने का माध्यम कोई भी क्यों न हो हमें हर स्थिति में हँसने को प्राथमिकता देनी चाहिए ताकि हम तनाव भगाकर सर्वप्रिय बन सके। जीवन में हास्य का वही महत्व है जो भोजन में नमक का है।

तो आइए हम आपको ऐसी ही कुछ तस्वीरें दिखाते हैं जिन्हें देखकर आप जीवन की परेशानियों को भूलकर हंसने पर मजबूर हो जाएंगे:

1. बात तो एकदम सही है भाई!

मजेदार तस्वीरें: हंसाने के लिए चाहिए सिर्फ एक लाइन!

2. इससे बेहतर तरीका क्या होगा समझाने का?

मजेदार तस्वीरें: हंसाने के लिए चाहिए सिर्फ एक लाइन!

3. ये हम आ गए हैं कहां?

मजेदार तस्वीरें: हंसाने के लिए चाहिए सिर्फ एक लाइन!

4. किसी को पकाने के लिए ऐसा नोटिस एकदम बढ़िया है!

मजेदार तस्वीरें: हंसाने के लिए चाहिए सिर्फ एक लाइन!

5. गल्ती से भी गल्ती मत करना!

मजेदार तस्वीरें: हंसाने के लिए चाहिए सिर्फ एक लाइन!

6. बहुत दिमाग लगाया है!

मजेदार तस्वीरें: हंसाने के लिए चाहिए सिर्फ एक लाइन!

7. बोलो राधे, राधे!

मजेदार तस्वीरें: हंसाने के लिए चाहिए सिर्फ एक लाइन!

Credit: navbharattimes

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds