गर्भवती महिलाओं को पड़ रहे अधिक दिल के दौरे : अध्ययन

गर्भवती महिलाओं को पड़ रहे अधिक दिल के दौरे : अध्ययन

महिलाओं के गर्भवती होने के दौरान, जन्म देने या प्रसव के दो महीने के बाद उनमें दिल का दौरा पड़ने का खतरा बढ़ता जा रहा है। अमेरिका के एक अध्ययन में इसका खुलासा हुआ है। जर्नल मायो क्लिनिक प्रोसीडिंग में ...

जहां शादी में विज्ञान पर दिया जाता है ध्यान!

जहां शादी में विज्ञान पर दिया जाता है ध्यान!

मिथिला की सांस्कृतिक विरासत सदियों से लोगों के लिए कौतूहल का विषय रहा है। आखिर हो भी क्यों न! यहां की अद्भुत सामाजिक परंपरा जो है। यहां के लोग सदियों से शादी-विवाह में वैज्ञानिक पद्धति को अपनाए हुए हैं। एक ...

देश में 3 में से 1 महिला पेल्विक दर्द से पीड़ित

देश में 3 में से 1 महिला पेल्विक दर्द से पीड़ित

देश में अधिकतर महिलाएं पेट के निचले हिस्से के दर्द से परेशान रहती हैं। पीरियड्स के दौरान या लंबे समय तक बैठे रहने से यह समस्या बढ़ जाती है। अगर पेट दर्द की समस्या छह महीने से अधिक समय तक ...

नींद की समस्या देती है मल्टीपल स्क्लेरोसिस का संकेत!

नींद की समस्या देती है मल्टीपल स्क्लेरोसिस का संकेत!

एक अध्ययन में वैज्ञानिकों ने पाया है कि मल्टीपल स्क्लेरोसिस (एमएस) की पहचान करीब पांच साल पहले की जा सकती है क्योंकि इसके मरीजों में तंत्रिका तंत्र विकार जैसे दर्द या नींद की समस्या के इलाज से गुजरने की संभावना ...

अधिक खाने को प्रेरित करने वाले दिमाग के हिस्से की पहचान!

अधिक खाने को प्रेरित करने वाले दिमाग के हिस्से की पहचान!

बहुत ज्यादा खाने वाले मोटापाग्रस्त लोगों में हाइपोथैलेमस में दिमाग की कोशिकाओं का एक छोटा समूह खाने को नियंत्रित करने का एक आशाजनक लक्ष्य हो सकता है। शोधकर्ताओं ने कहा कि ‘ओरेक्जिन’ न्यूरॉन्स को पहले पाया गया है कि वह ...

जेनेटिक विकार से बढ़ रही बच्चों की मृत्यु दर!

जेनेटिक विकार से बढ़ रही बच्चों की मृत्यु दर!

भारत में प्रत्येक दिन सैकड़ों बच्चों का जन्म कई प्रकार के दोषों के साथ होता है, जिसके कारण दिव्यांगता और मृत्यु के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। देश में जेनेटिक विकार एक बहुत ही गंभीर स्वास्थ्य समस्या, जिसके लिए माता-पिता ...

टेस्टोस्टेरोन उपचार कैंसर मरीजों के लिए नई उम्मीद!

टेस्टोस्टेरोन उपचार कैंसर मरीजों के लिए नई उम्मीद!

कैंसर के मरीजों में शरीर द्रव्यमान सूचकांक (बॉडी मास) में कमी से निपटने में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन से इलाज प्रभावी हो सकता है और इससे जीवन की गुणवत्ता में सुधार हो सकता है। एक शोध में पता चला है। कैंसर से ...

सफेद मोतियाबिंद का नवीनतम इलाज ‘फेमटोसेकेंड’!

सफेद मोतियाबिंद का नवीनतम इलाज ‘फेमटोसेकेंड’!

आज भी मोतियाबिंद ही दुनियाभर में दृष्टिहीनता का सबसे बड़ा कारण है। लेकिन नेत्र चिकित्सा के क्षेत्र में जो प्रगति हुई है, उसने इसका इलाज आसान कर दिया है। सफेद मोतियाबिंद का नवीनतम इलाज लेजर तकनीक “फेमटोसेकेंड” (Femtosecond) के रूप ...

मधुमेह से फेफड़े की बीमारी का जोखिम ज्यादा!

मधुमेह से फेफड़े की बीमारी का जोखिम ज्यादा!

मधुमेह रहित लोगों की तुलना में टाइप-2 मधुमेह वाले लोगों में रिस्ट्रिक्टिव फेफड़े की बीमारी (आरएलडी) विकसित होने का जोखिम ज्यादा होता है। आरएलडी की पहचान सांस फूलने से की जाती है। जर्मनी के हेडेलबर्ग अस्पताल विश्वविद्यालय के स्टीफन कोफ ...

जनसंख्या पर लगाम के लिए यौन व प्रजनन स्वास्थ्य पर जागरूकता जरूरी

जनसंख्या पर लगाम के लिए यौन व प्रजनन स्वास्थ्य पर जागरूकता जरूरी

विश्व में प्रत्येक वर्ष जुलाई 11 को विश्व जनसंख्या दिवस के रूप में मनाया जाता है। दुनिया की आबादी 7.6 अरब है जबकि भारत और चीन की संयुक्त जनसंख्या 2.7 अरब है, जो एक चिंता का विषय बनकर उभरा है। ...