जेल मुझे बदल नहीं सका—लेकिन इससे मैं बदल गया

जेल मुझे बदल नहीं सका—लेकिन इससे मैं बदल गया

“केवल भगवान ही उसे बदल सकते हैं।” लोगों ने मेरी पीठ के पीछे यही कहा। मैं एक चोर, एक डाकू, नशे की लत में ग्रस्त, एक बिगड़ा हुआ इंसान था। लेकिन जब उन्होंने मुझमें बदलाव देखा, तो वे अपनी आंखों ...

ग्लोबल डेनिश बैंक में आईटी मैनेजर ने अपनी सफलता के लिए फालुन दाफा को श्रेय दिया

ग्लोबल डेनिश बैंक में आईटी मैनेजर ने अपनी सफलता के लिए फालुन दाफा को श्रेय दिया

एक ग्लोबल डेनिश बैंक में अपने कार्यालय में बैठकर, यह इंजीनियर लाखों डॉलर के फैसलों को संभालते हैं। उनके पद पर आवश्यक दक्षता का स्तर आसानी से एक दुर्बल मानसिक दबाव पैदा कर सकता है। लेकिन ऐसा लगता है, इस ...

कैलिफोर्निया की यह युवती व्यग्रता और ओसीडी की कैदी थी—फिर एक यात्रा ने उनका जीवन बदल दिया

कैलिफोर्निया की यह युवती व्यग्रता और ओसीडी की कैदी थी—फिर एक यात्रा ने उनका जीवन बदल दिया

सैली एपर्ट (Sally Appert) सैन होसे, सीए (San Jose, CA), की 27 वर्षीय एकाउंटेंट हैं। वह व्यग्रता के साथ बड़ी हुई जो अंततः जुनूनी-बाध्यकारी विकार (obsessive-compulsive disorder – OCD) में विकसित हुआ। अपने सबसे निचले बिंदु पर, उनका हर दिन ओसीडी से आने ...

अक्षमताओं का दंश झेल रहे अमित अनोखे अंदाज़ में लोगों को विकलांगता के प्रति कर रहे हैं जागरुक!

अक्षमताओं का दंश झेल रहे अमित अनोखे अंदाज़ में लोगों को विकलांगता के प्रति कर रहे हैं जागरुक!

कहते हैं, “हौसले बुलंद हो तो शारीरिक अक्षमताएं इंसान की राह में रोड़ा नहीं बनती।” कुछ ऐसे ही मज़बूत इरादों के साथ हरियाणा के एक दिव्यांग शख्स लोगों के बीच विकलांगता के रोकथाम के बारे में जागरुकता फैलाने निकले हैं। ...

22 वर्षीय शालिनी दुबे के सामने झुकती हैं बड़ी-बड़ी कंपनियां: युवाओं के लिए नहीं हैं आदर्श  से कम!

22 वर्षीय शालिनी दुबे के सामने झुकती हैं बड़ी-बड़ी कंपनियां: युवाओं के लिए नहीं हैं आदर्श से कम!

आप मार्क ज़करबर्ग को जानते होंगे, आप बिल गेट्स को जानते होंगे और आप विजय शेखर शर्मा को भी जानते होंगे और भी बहुत सारी हस्तियां जिनके नाम और काम आपको बखूबी याद हैं लेकिन इस दुनिया में बहुत से ...

भारत की श्रीलक्ष्मी सुरेश दुनिया की सबसे छोटी सीईओ, आज हैं दो कंपनियों की मालकिन!

भारत की श्रीलक्ष्मी सुरेश दुनिया की सबसे छोटी सीईओ, आज हैं दो कंपनियों की मालकिन!

भारतीय प्रतिभा का लोहा पूरी दुनिया मानती है। दुनिया की कई बड़ी-बड़ी कंपनियों में भारतीय मूल के सीईओ (CEO) हैं। इनमें माइक्रोसॉफ्ट, गूगल और पेप्सिको जैसी दिग्गज कंपनियां भी शामिल हैं लेकिन हम यहां आपको एक ऐसी युवा प्रतिभा के ...

ये 65 वर्षीय वृद्ध भारतीय पुलिस अकादमी में अध्यात्मिक स्वास्थ्य और शांति का संदेश पहुंचा रहे हैं

ये 65 वर्षीय वृद्ध भारतीय पुलिस अकादमी में अध्यात्मिक स्वास्थ्य और शांति का संदेश पहुंचा रहे हैं

इसकी शुरुआत वर्ष 2007 में तब हुई थी जब पी. सुब्रमण्यम (P. Subrahmanyam), जो अब 65 वर्ष के हैं, अपने बेटे से मिलने के लिए हैदराबाद से न्यूज़ीलैंड (New Zealand) गए थे। अपने परिवार, एवं मित्रों द्वारा प्यार से सुब्रा ...

विल्मा रुडोल्फ दिव्यांगता से ओलंपिक्स का सफ़र तय करके अन्य लोगों के लिए बनी प्रेरणादायक मिसाल!

विल्मा रुडोल्फ दिव्यांगता से ओलंपिक्स का सफ़र तय करके अन्य लोगों के लिए बनी प्रेरणादायक मिसाल!

सफल व्यक्ति अपनी सफलता समस्याओं की अनुपस्थिति में नहीं बल्कि उनके विरुद्ध अर्जित करते हैं। अपनी बदहाली को पीछे छोड़कर कामयाबी के शिखर को छूने वाले लोगों की कहानियां वास्तव में प्रेरणास्पद होती हैं। ऐसे व्यक्तियों की जीवनियाँ और आत्मकथाओं को ...

मुंबई के इस चाय वाले की कहानी असल मायने में खुशी का मतलब समझाती है!

मुंबई के इस चाय वाले की कहानी असल मायने में खुशी का मतलब समझाती है!

हर इंसान के जीवन में खुशियों के अलग-अलग मायने होते हैं। किसी के लिए परिवार का साथ मायने रखता है, तो कोई लग्ज़री लाइफ में खुश रहता है। लेकिन मुंबई के इस चाय वाले की कहानी आपको असल मायने में ...

बिना हाथ-पैरों के जन्मे निकोलस वुजिसिक की ज़िंदगी से जंग की कहानी सचमुच प्रेरणादायक है!

बिना हाथ-पैरों के जन्मे निकोलस वुजिसिक की ज़िंदगी से जंग की कहानी सचमुच प्रेरणादायक है!

जब कभी हमारी ज़िन्दगी में समस्याएँ या मुश्किलें आतीं हैं तो हम में से ज्यादातर लोग सोचते हैं कि ऐसा मेरे साथ ही क्यों हो रहा है? यही सोच धीरे-धीरे हमारे अन्दर घोर निराशा पैदा करके हमारी ज़िन्दगी को एक ...